हमारे सिनेमा जगत ने हिंदुस्तान को बहुत सारे स्टार दीये सुपरस्टार दीए जिन्होंने हमारे दिल पर राज किया, बॉलीवुड पे राज किया और यहांतक के वो हमें अपने घर परिवार के सदस्य लगने लगे| ऐसेही एक सुपरस्टार हैं जिन्हें बॉलीवुड का सबसे बड़ा खिलाडी कहा जाता हैं जिनका नाम हैं अक्षय कुमार| नाम, शौहरत आसमान छु रही हैं फिर भी जिनके पैर जमीन पर हैं| आइए जानते हैं जमीन से उठकर आसमान तक कैसे पहुचा Akshay Kumar Bollywood का सबसे बड़ा खिलाडी|

Akshay Kumar का असली नाम क्या है

                    9 सितम्बर 1967 को पुरानी दिल्ली में पंजाबी परिवार में जन्मे अक्षय कुमार का असली नाम राजीव हरी ओम भाटिया हैं| चादनी चौक, पराठे वाली गल्ली में उनका घर था| उनके पिताजी अमृतसर के हैं और माताजी कश्मीर से हैं| उनके पिताजी पहले मिलिट्री में थे बाद में उन्हें UNICEF में नौकरी मील गयी और उनका तबादला मुंबई में हो गया| मुंबई आनेके चार साल बाद उनके बेहन का जन्म हुआ| उनका चार ही जन का परिवार था|

बेटा इतना तो पढ़ की बेवकूफ न लगे

                     मुंबई के माटुंगा स्थित डॉन बोस्को स्कूल में उनकी पढाई हुयी| पढाई में राजीव (अक्षय कुमार) इतने ख़ास नहीं थे उनकी ज्यादा रुची खेल कूद में थी| स्कूल में Sports के हर एक activity में वो participate करते  थे| इसी बीच उनको कराटे सिखने का शौक हुआ तो पिताजी ने उनको कराटे क्लास में भेज दीया| उनके पिताजी ने अक्षय के खेल के लगाव को भाप लिया था और वो उनसे हमेशा कहा करते थे बेटा तुम्हे पढाई अच्छी नहीं लगती यह में समझ सकता हु| पर जिन्दगी में आदमी को इतना तो पढ़ ही लेना चाहिए जब वोह जब चार बड़े लोगो में बैठे तो बेवकूफ नहीं लगना चाहिए|

Bangkok में 5 साल Martial art, Thai Boxing, कराटे सीखी

                   10 व़ी पास होने के बाद अक्षय ने कराटे की Advance Training लेने के लिए Bangkok जाने के सोची| उनके पिताजी ने पैसे का arrangement करके उनको Bangkok भेज दीया| अक्षय ने Bangkok में 5 साल Martial art, Thai Boxing, कराटे सीखी| Bangkok से आने के बाद उन्होंने कलकत्ता, ढाका, और दिल्ली में भी काम किया| दिल्ली से वो कुंदन की ज्वेलरी लाके मुंबई में बेचने का काम करते थे| बाद में उन्होंने सिर्फ मुंबई में ही काम करने की सोची|

अक्षय ने कहा Modelling क्या होती हैं

                   मुंबई में बच्चो को कराटे की ट्रेनिंग दीया करते थे अक्षय| एक बार कराटे स्टूडेंट के पिताजी ने अक्षय को देखा| उनसे कहा आप की पर्सनालिटी अच्छी हैं और आप दीखते भी अच्छे हो Modelling क्यों नहीं करते| अक्षय को Modelling के बारें में कुछ पता नहीं था उन्होंने कहा क्या होती है Modelling? वो शख्स Modelling Coordinator थे उन्होंने अक्षय से कहा कल आकर मीलो|

महीने के 5 हजार रूपये कमाते थे अक्षय कुमार

                           बच्चो को कराटे सिखाकर 5 से 6 हजार रूपये महीना कमाया करते थे अक्षय| उनका पहला Modelling Assignment फर्नीचर का था| दो तीन घंटा उनका फोटो shoot किया गया| और उनको Modelling करने का पहला चेक मिला 21000/- रूपये का| एक महिना बच्चो को कराटे सिखाकर 5000/- रूपये कमाने वाले अक्षय सिर्फ दो घन्टे में 21000/- रूपये की कमाई देखकर चौक गए| उन्होंने अब सिर्फ Modelling करने का निश्चय किया| अपनी फोटो अलबम लेकर वो Modelling कंपनी के ऑफिस में काम की तलाश में जाने लगे|

राजीव हरी ओम भाटिया बना अक्षय कुमार

                        फिल्मो में काम करने से पहले ही अक्षय कुमार ने अपना राजीव हरी ओम भाटिया नाम बदलकर अक्षय कुमार रख लिया था| उनके घर वाले आज भी उनको राजीव नामसे ही बुलाते हैं| अक्षय कुमार का कहना हैं की एक दिन ऐसेही उनको लगा के अपना नाम बदल दे उनके माता पिता ने भी कोई विरोध नही दर्शाया तो राजीव हरी ओम भाटिया बन गया अक्षय कुमार| पर खिलाड़ी अक्षय कुमार बनने में अभी वक्त था|

सुपरस्टार राजेश खन्ना अक्षय कुमार के ससुर हैं

                      Modelling करते करते फिल्मो में काम करने की भी सोच रहते थे अक्षय| काम मांगने के सिलसीले में कई बार सुपरस्टार राजेश खन्ना के ऑफिस भी गए थे अक्षय कुमार| बाद में उन्होंने उनकी लड़की ट्विंकल खन्ना से शादी कर ली| अक्षय कहते है मैंने कभी सोचा भी नहीं था एक दीन में सुपरस्टार राजेश खन्ना की बेटीसे शादी करूँगा| इसी फिल्मोमे  काम के स्ट्रगल के दौरान प्रमोद चक्रवर्ती ने अक्षय कुमार को तीन फिल्मों के लिए साइन कर लिया और अक्षय कुमार से वो बन गए Bollywood के सबसे बड़े खिलाड़ी| आजतक १२० फिल्मों से ज्यादा में काम कर चुके हैं और नेशनल अवार्ड ले चुके है अक्षय कुमार|

तो यह थी राजीव हरी ओम भाटिया की अक्षय कुमार बनने तक की कहानी|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *