Full Form of India | इंडिया शब्द का अर्थ और इतिहास जानिए आसान भाषा मे

Full Form of India : हमारे देश के संविधान (constitution) के आर्टिकल-1 (Article-1) में हमारे देश का उल्लेख “India जिसे ‘भारत’ भी कहा जाता है, राज्यों का एक संघ है ” इस प्रकार से किया गया है |

मतलब अधिकृत रूप से हमारे देश को विश्वभर में इंडिया (India) और भारत इन दोनों नामों से जाना जाता है |

बहुतसे लोगों को लगता है ‘भारत’ देश को इंडिया (India) यह नाम अंग्रेजोंने दिया है | इंडिया (India) यह नाम अंग्रेजी जरूर है पर अंग्रेजोने यह नाम हमारे देश को नही दिया था | हमारे देश को इंडिया (India) कहने के पीछे दुसरे कारण है |

इस लेख में हम विस्तार से इंडिया (India) नाम का पूर्ण रूपसे अर्थ जानेंगे |

सबसे पहले हम यह जान लेंगे की हमारे देश को ‘भारत’ नाम कैसे मीला | 

Full Form of India

Full Form of India

हमारे संविधान में आधिकारिक तौर पर इस बातका स्पष्ट रूप से उल्लेख है की ‘India ही भारत है और भारत ही इंडिया है’ | 

हमारा देश प्रचीन है और अलग-अलग कालखंड में इस को अनेक नाम से सम्बोधा गया है | देश विदेशों के प्राचीन ग्रंथो में इसका जिक्र भी हुआ है |

सबसे पहले हम जान लेते है हमारे देश को भारत नाम कैसे पडा, इसकी क्या कहानी है|

💡 भारत (Bharat) 💡 

प्राचीन काल से भारतभूमी के अलग-अलग नाम रहे है, पर इन सब में सदा से प्रचलीत और लोकमान्य नाम ‘भारत’ ही रहा है और आज भी है | भारत नाम एक प्राचीन राजा के नाम से आया है | 

आम तौर पर माना जाता है दुष्यंत पुत्र भरत के नाम पर ही देश का नाम ‘भारत’ पड़ा है |

महाभारत के आदिपर्व में एक कथा है उसके अनुसार महर्षि विश्वामित्र और अप्सरा मेनका की बेटी शकुंतला और कुरुवंशी राजा दुष्यंत के बीच गंधर्व विवाह होता है | इन दोनों के पुत्र का नाम भरत था |

ऋषि कण्व ने आशीर्वाद दिया भरत आगे जाकर चक्रवर्ती सम्राट बनेगा और उसीके नाम पर इस देश का नाम ‘भारत’ पडेगा |

ग्रन्थ के अनुसार भरत एक चक्रवर्ती सम्राट थे जिन्होंने चारों दिशाओं के भूमि को अधिग्रहण करके एक विशाल साम्राज्य प्रस्थापित किया | सम्राट भारत के अधिपत्य के निचे वाले इस विशाल साम्राज्य को ‘भारत’ कहा गया |

जनमानस के बिच यही कथा लोकप्रिय है और देश का नाम ‘भारत’ इसी के अनुसार पड़ा ऐसे माना जाता है |

जैन परम्परा के अनुसार जैनों का ऐसे मानना है की भगवान रिषभ देव के जेष्ट पुत्र महायोगी भरत के नाम पर इस देश का नाम भारतवर्ष पड़ा |

भारत के विविध नाम

Full Form of India :

भारत के प्राचीन और वैविध्य पूर्ण संस्कृति की तरह उसके विविध नाम भी रहे है | इन् नामोंमें से कुछ प्रमुख नाम इस प्रकार से है |

➡ भारतवर्ष [Bharatvarsha]

अग्निपुराण, महाभारत और वेदों में भारतवर्ष नाम का उल्लेख आता है | ‘वर्ष’ शब्द का संस्कृत में अर्थ होता है खंड, भू-भाग |

अग्निपुराण में भारतवर्ष देश में कितना भू-भाग आता है उसका वर्णन किया गया है | यहाँ तक की अग्निपुराण में भारतवर्ष राष्ट्र की दूरी तक बताई गयी है |

अग्निपुराण के अनुसार भारतवर्ष 9000 योजना मतलब 72000 मिल तक फैला हुआ था |


➡ जम्बुद्विप [Jambudvipa]

जम्बुद्वीप यह भारत का सबसे पुराना नाम है | जम्बू मतलब जामुन | जामुन फल को संस्कृत में ‘जम्बु’ कहा जाता है |

ऐसा माना जाता है उस जमाने में यहा बहुत सारे जामुन के पेड़ रहे होंगे इसलिए इस द्वीप का नाम जम्बुद्वीप पड़ा |


➡ द्रविड़ [Dravida]

भारत देश को द्रविड़ नाम से भी जाना जाता था | द्रवीड भारत देश के मूलनिवासी थे | जिन्हें बाहर से आये आर्यों ने परास्त कर दिया था जो आज अदिवासी कहलाते है | 

द्रवीड भारत देश के मूलनिवासी थे इसलिए देश द्रविड़ नाम से भी जाना जाता था |


➡ आर्यावर्त [Aryavrta]

इतिहास अभ्यासकोंका मानना है कि हिन्दूकुश पर्वतों के पार जो आर्य थे उनका संघ ईरान कहलाया और पूरब में जो आर्य थे उनका संघ आर्यावर्त कहलाया |

आर्यावर्त मतलब आर्यों की भूमी |


➡ नाभिवर्ष [Nabhivarsha]

नाभि नाम के एक शक्तिशाली राजा हो गए | उन्होंने इस भू-भाग पर राज किया इसलिए इस भू-भाग को नाभिवर्ष नाम से भी जाना जाता था |

नाभि राजा जैन धर्म के पहले तीर्थंकर ऋषभनाथ के पिता थे | जैन धर्म के आदिपुराण में इसका उल्लेख है |

नाभि का अर्थ संस्कृत में मध्य होता है | भारत देश का भू -भाग पृथ्वी के मध्य में है ऐसे माना जाता था इसीलिए भी इसे नाभिवर्ष कहा जाता था |


➡ हिंदुस्तान [Hindustan]

अंग्रेजों के पहले भारत पर मुगलोंका राज था | मुगलोंने भारत को सबसे पहले हिंदुस्तान कहना शुरू किया था |

मूल रूप से हिंदुस्तान का अर्थ हिंदू की भूमि है |

भारत को हिंदुस्तान नाम मुस्लिम मुगल शासकोने 11 वीं शताब्दी में दिया था | मुस्लिम शासित बहुत से देशोके नाम स्तान शब्द से ख़त्म होते है | जैसे की-

1. कजाकिस्तान 
2. उज़्बेकिस्तान
3. अफ़ग़ानिस्तान
4. तुर्कमेनिस्तान
5. किर्गिज़स्तान
6. पाकिस्तान 

 


➡ यिंदु [Yindu]

चीन में भारतको इंडिया नाम के अलावा यिंदु (Yindu) नाम से भी जाना जाता है | यिंदु (Yindu) नाम दरअसल सिन्धु शब्द का अपभ्रंश है, जो सिन्धु नदी से प्राप्त हुआ है |

चीन के अनेक किताबों में इसका उल्लेख है |


➡ होडू [Hodu]

हिब्रू बाइबल में भारत के लिए होडू नाम का इस्तेमाल किया गया है |

हिब्रू बाइबल के इस्थर में भारत के भू-भागोंका वर्णन करते हुए इस भूमी को होडू संबोधा गया है |


 ➡ हिंदुश [Hidush)

सिन्धु नदी के, सिन्धु शब्द से ही हिंदुश शब्द की उत्त्पत्ति हुई है | हिंदुश मतलब सिन्धु की भूमि |

इस सिंध भूमी को हिंदुश कहां गया |

Full Form of India

भारत को इंडिया नाम कैसे पड़ा?

Full Form of India

विदेशों में ‘भारत’ को प्रमुख तौर पर ‘इंडिया’ नाम से जाना जाता है | पर हमारे देश के अधिकांश लोग इसे ‘भारत’ या ‘हिंदुस्तान’ कहना ही ज्यादा पसंद करते है |

भारत को इंडिया नाम कैसे पड़ा इसका एक इतिहास है | आइए हम इस इतिहास को जान लेते है |

💡 इंडिया [India

बाहर से आये हुयें लोगोने जो भी नाम इस देश को दिए इनपे अगर आप गौर करेंगे तो आप पाएंगे इन् नामों में कुछ बातें एक सामान है |

इनमे से लगभग सारे नाम Hin और in शब्दों के ध्वनी से शुरू होते है | और आखिर में du or dia ध्वनी से समाप्त होते है |

मूल रूप से India का अर्थ है ‘ind की भूमि’ | ‘Ind’ शब्द ‘हिंद’ का अपभ्रंश है जिसे हमने ‘हिंद’ के रूप में देखना है |

इसी तरह से अगर आप इन् ध्वनी को अंग्रेजी भाषा बोलने वालों के दृष्टी से एकत्रित करोंगे तो यह इंडिया (India) जैसे प्रतीत होता है |

‘ia’ का मतलब लैटिन भाषा में “land of” मतलब भूमी है | इसी लिए बहुत से देशों के नाम ‘ia’ से समाप्त होते है | जैसे की-

Australia ऑस्ट्रेलिया
Russia रशिया 
Austria ऑस्ट्रिया
Albania अल्बानिया
Latvia लाटविया
Lithuania लिथुआनिया
Algeria एलजीरिया
Romania रोमानिया
Slovakia स्लोवाकिया
Indonesia इंडोनेशिया
Bulgaria बुल्गारिया
Estonia एस्तोनिया
Slovenia स्लोवेनिया
Armenia आर्मीनिया
Croatia क्रोएशिया
Serbia सर्बिया
Nigeria नाइजीरिया
Bolivia बोलीविया
Zambia जाम्बिया
Colombia कोलंबिया
Czechia चेकिया
Tanzania तंजानिया
Namibia नामिबिया
Malaysia मलेशिया
Ethiopia इथियोपिया
Somalia सोमालिया
Cambodia कंबोडिया
Mongolia मंगोलिया
Tunisia ट्यूनीशिया
Liberia लाइबेरिया
Georgia जॉर्जिया
Saudi Arabia सऊदी अरब
Syria सीरिया
Mauritania मॉरिटानिया
Micronesia माइक्रोनेशिया
St. Lucia सेंट लूसिया

Full Form of India :

इंडिया (India) का मतलब अगर हम इतिहास पर गौर करेंगे तो  ‘हिन्द की भूमि’ ऐसा प्रतीत होता है |

पुराने समयमें ग्रीस देशमें ‘हिंदू’ शब्द ‘इंडोस (Indos) ‘ में बदल गया | रोमन में, उन्होंने इस शब्द को Indus(इंडस) कहा | 

Indus(इंडस) शब्द ‘हिन्दू’ शब्द से आया | ‘हिन्दू’ शब्द ‘सिन्धु’ से आया और India (इंडिया) शब्द Indus (इंडस) से आया |

ग्रीक में भारत शब्द के लिए इंडिया और सिन्धु शब्द के लिए इंडस शब्द का इस्तेमाल होता था |

अंग्रेजी बोलने वाले देश सिंधू नदी को Indus (इंडस) नाम से जानते थे क्यों की रोमन लोग सिंधू नदी को Indus नाम से बुलाते थे | इसलिए उनके लिए सिन्धु नदी बन गई Indus River और इसके आसपास वाली भूमी बन गई इंडिया (India) | 

भारत को हिन्द क्यों कहा गया ?

भारत के इस धरती को सबसे पहले हिन्द कहा गया | हिन्द क्यों कहा गया ?

जो लोग यहा पश्चिम से आये, जो मध्य एशिया से आये, आते समय उनको सिंध नदी को पार करना पड़ता  था |

ऐसा माना जाता हैं की इन् लोगों की भाषा में ‘स’ शब्द का इस्तेमाल कम किया जाता है तो उन्होंने ‘स’ का उच्चार ‘ह’ करना शुरू कर दिया |

तो सिन्धु के बदले हो गया हिन्दू | हिन्दू शब्द इसा पूर्व 2000 साल से भी पुराना है |

सबसे पहले हिंद शब्द का इस्तेमाल हो गया बाद में यहा के धर्म को हिन्दू कहां गया | हिन्दू शब्द इस्तेमाल हो गया यहा के धर्म के लिए |

सात नदियों वाले प्रसिद्ध ‘सप्तसिन्धु’ क्षेत्र को प्राचीन फ़ारसी में ‘हफ़्तहिन्दू’ कहा जाता था |

सिन्धु से ‘हिन्दू’ बना और इंडस से ‘इंडिया’ बना |

मूल नाम हिंदू उन लोगों पर लागू होता है जो उत्तरी भाग में लंबे समय तक रहते थे, जिसे वे सिंधु नदी कहते थे |

💡 सिंधु मूल रूप से एक संस्कृत शब्द है, जिसका अर्थ है पानी का बड़ा भंडार |

ग्रीक में भारत शब्द के लिए इंडिया और सिन्धु शब्द के लिए इंडस शब्द का इस्तेमाल इस बात का प्रमाण है हिन्द यह प्राचीन शब्द है और भारत की पहचान है |

Hinduism क्या है ?

‘Hinduism’ शब्द का इस्तेमाल फ़ारसी साहित्यमे 14 वीं शताब्दी में किया गया पाया जाता है |

अंग्रेजी में ‘ism’ शब्द विचारों, दर्शन और सिद्धांत का प्रतिनिधित्व करता है |

जब कोइ हिंदुओं के विचार, दर्शन और सिद्धांतों का वर्णन करना चाहते हैं, तो वह इसे ‘Hinduism’ (हिंदूइजम) कहके प्रस्तुत करता है |

India पर केस कर दिया 

Full Form of India

भारत देश का नाम सिर्फ भारत या हिंदुस्तान होना चाहिए ऐसी याचिका सुप्रीम कोर्ट में दायर की गयी थी | 

याचिका कर्ता का कहना था India यह नाम हमें अंग्रेजोने हमे दिया है और यह गुलामी का प्रतीक है | इसलिए भारत को india नहीं कहा जाना चाहिए |

कोर्ट ने फैसले में कहा था-

“संविधान में देश को ‘भारत’ नाम पहले से ही दिया गया है | इसलिए इसे फिरसे देने का कोइ प्रश्न ही नही है | 

देश का नाम बदलने के सारे अधिकार देश के संसद को है | बहुत से देशो ने अपने पुराने नाम बदले है | इसलिए यह प्रश्न केंद्र सरकार के अधीन आता है | संसद में वह इस तरह का प्रस्ताव रख सकती है |” 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here