Johny lever Biography in Hindi | जॉनी लीवर की जीवनी हिंदी में

Johny lever Biography in Hindi
Johny lever Biography in Hindi

Johny lever Biography in Hindi: हिंदुस्तान में एक से बढ़कर एक Comedy Actor हुए हैं इनमेसे एक प्रसिद्ध नाम हैं Johny Lever. उनको comedy का King भी कहा जाता है|

मजदूर से comedy King बनने तक (Johny lever Biography in Hindi) का उनका सफ़र आसान नहीं था|  पर खुद का गम भूला कर दूसरो को हसाते हसते उन्होंने यह सफ़र तय कर लिया| 

धारावी झोपड़पट्टी में रहते थे Johny Lever

14 अगस्त 1957 को जन्मे Johny Lever का असली नाम John Rao हैं| उनके पिता का नाम प्रकाश और माता का नाम जनुमाला हैं|

तेलगु Christian परिवार में जन्मे Johny lever तीन बहने और दो भाई में से सबसे बड़े हैं|

Johny का परिवार आँध्रप्रदेश से हैं और उनके पिताजी बहुत पहले ही मुंबई आ चुके थे|

Johny का परिवार उनके 10 साल के उम्र तक माटुंगा धारावी लेबर कैंप झोपड़पट्टी में रहता था| बाद मे उनका परिवार Kingcircle झोपड़पटी में रहने चला गया|

बारिश  के दिनों में इस झोपड़पट्टी के घर में घुटने तक पाणी भर जाता था| छोटा John हाथ में कटोरा लेकर छत से टपकता बारिश का पाणी झेलने की कोशिश करता था|

सिर्फ सातवी तक पढ़े हैं Comedy सुपरस्टार Johny

Johny lever का बचपन गरीबी में गुजरा| गरीबी के कारण उनको अपनी पढाई सातवी क्लास में ही छोडनी पढी|

School छोड़ने के बाद मुंबई के रस्तो पर पेन बेचा करते थे| पेन बेचने के लिये एक्टर लोगोकी मिमिक्री और Bollywood song पर डांस किया करते थे john.

किंग circle झोपड़पट्टी में विविध प्रान्त से आये लोग रहते थे और उनकी बोलचाल की copy करना, मिमिक्री करना उनको अच्छा लगता था|

17 साल के उम्र में ही Stand Up Comedy करना चालू किया

16 साल की उम्र तक डांस शो किया करते थे और 17 साल के उम्र में ही स्टेज पर stand up comedy करने लग गए|

Bollywood एक्टर के मिमिक्री करना, जोक सुनाना पसंद करते थे john.

18 साल के उम्र में Hindustan Lever कंपनी में काम पे लग गए थे| उनके पिताजी भी उसी कंपनी में काम किया करते थे|



💡 इन्हें भी पढ़िए 💡 



कैसे मिला John राव को Johny Lever नाम

Johny lever ने 6 साल तक हिंदुस्तान लीवर कंपनी में काम किया| इस दौरान कंपनी function में वे स्टेज पर सीनियर ऑफिसर की मिमिक्री किया करते थे| कंपनी में वो famous हो गए और वर्कर लोगोने उन्हें नया नाम दिया Johny Lever.

हिंदुस्तान लीवर कंपनी में काम करते हुए वो बाहर stage show भी किया करते थे और इससे उनको अच्छी income होने लगी तो उन्होंने नौकरी छोड़ दी|

पर हिंदुस्तान कंपनी के वर्कर लोगोने प्यार से दीया नाम Johny lever उन्होंने कायम रखा|

पहली फिल्म की शूटिंग छोड़कर भागने वाले थे Johny

Famous संगीतकार कल्यानजी आनंदजी के साथ स्टेज show किया करते थे Johny.

एक बार साउथ के डायरेक्टर ने कल्यानजी से पुछा कोई कॉमेडियन है फिल्म में रोल हैं| उन्होंने Johny Lever का नाम बताया| फिल्मो में कभी भी काम नहीं किया था Johny ने वो डर गए रात भर सो नहीं पाए| उनको बुखार आ गया पर हिम्मत करके उन्होंने उस फिल्म की shooting पूरी कर ली|

उस साउथ की फिल्म का नाम था ‘यह रिश्ता ना टूटे’| इसके बाद उन्होंने कभी भी पीछे मूड कर नहीं देखा|

रोज देढ बोतल शराब और 4 पॉकेट सिगारेट पिया करते थे

अपनी लाजवाब अदाकारी से Johny lever फेमस हो गए| नाम, पैसा, शोहरत उनको सब मिल गया| Stage show के लिए वो World Tour किया करते थे|

लम्बे एयरोप्लेन Travelling के दोरान टाइमपास के लिए वो शराब पिते थे| उनको शराब पिने के लत लग गयी और दिन में 11/2 बोतल शराब और 4 पैकेट सिगारेट पीने लग गए|

उनके बीवी, मा, पिताजी उनके इस आदत से परेशान हो गए| पर उन्होंने किसकी नहीं सुनी|

दस साल तक फिल्मो में काम नहीं किया

Johny lever के बेटो को गले पर बडी गाठ (Tumor) हो गयी थी| डॉक्टरो ने कहा था ऑपरेशन होने के बाद हो सकता हैं इसका आधा शरीर काम करना बंद कर दे|

johny धार्मिक इंसान हैं| अमेरिका में एक चर्च में प्राथना कर रहे थे तब उनको बतया गया Newyork में कैंसर के लिए एक अच्छा हॉस्पिटल हैं आप बेटे का वहा इलाज कीजिये| उनका बेटा ठीक हो गया|

Johny lever को एक बेटा और बेटी हैं| Jhony ने इस दौरान 10 साल तक फिल्मो में काम नहीं किया| बेटा ठीक होने के बाद उन्होंने शराब और सिगारेट छोड़ दी|

Johny Lever का कहना हैं आपके पास पैसा, नाम, शौहरत सभी हो पर जिन्दगी में अगर शांति (Peace) नहीं है तो यह चीज़ें कुछ काम की नहीं हैं|

यह है Johny lever के जीवन की अद्भूत कहानी| 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here