Star Anise in Hindi | चमत्कारी चक्र फूल के बारें में सभी जानकारियाँ

Advertisement

Star Anise in Hindi: कई वर्षों से एशिया (Asia) और यूरोशीया (Eurosia) महाद्वीप में Star Anise का उपयोग किया जा रहा है |

सदियों पुराना यह मसाला (Spice) रसोई घर में इस्तमाल होता है और साथ-साथ अपने औषधीय गुणों के लिए भी प्रसिद्ध है |

इसका वैज्ञनिक नाम (Scientific name) इलिसियम वेरुम (Illicium verum) है और यह मैगनोलिया (Magnolia) परिवार से है |

Star Anise को दुनिया में staranise, star anise seed, star aniseed,  Chinese star anise नाम से भी जाना जाता है |

भारत में Star Anise विभिन्न नामो से पहचाना जाता है | हिंदी में यह चक्र फूल, चकरी फूल, अनासफल, फारसी में बादियान, मराठी में चकरी फूल, तमिल में अऩ्ऩाचि मॊक्कु, तेलगु में अनस पुव्वु नाम से जाना जाता है |

"<yoastmark

Star Anise in Hindi

Star Anise को हिंदी भाषा में चक्र फूल, चकरी फूल, अनासफल या बाडियन कहते है|

चक्र फूल एक मध्यम आकार का सदाबहार पेड़ है जो पूर्वोत्तर वियतनाम और दक्षिण पश्चिम चीन का मूल निवासी है |

Star Anise (चक्र फूल) की उत्पत्ति 3000 साल पहले चीन से हुई थी |

इसके अनोखे स्वाद और सुगंध की वजह से एशियाई व्यंजनों में सदियों से चक्र फूल का इस्तेमाल किया जाता रहा है |

चक्र फूल व्यंजनों में इस्तेमाल किये जाने वाले मसालो में एक महत्वपूर्ण मसाला है जो खाने का स्वाद बढाने के साथ सेहत के लिए भी लाभकारी होता है |

पेड़ों पर उगने वाला चक्र फूल वास्तव में एक छोटा फल है जो फूल की तरह दीखता है | बहुत से लोग इसे फूल समझ लेते है पर यह एक छोटे आकार का फल है जिसके अन्दर बिज भी होते है |

इस फल के तारे जैसे आकार के वजहसे इसे अंग्रेजी में ‘Star Anise‘ और हिंदी में ‘चक्र फूल‘ कहा जाता है क्योंकि यह वास्तव में किसी तारे जैसा दिखता है |

आमतौर पर चक्र फूल में छह से आठ पंखुडियां होती है और इसके हर एक पंखुड़ियों में इसके बीज होते है | 

Advertisement

इन बीजों में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते है जो मानव शरीर के लिए बहुत ही गुणकारी साबित होते है | 

एनएथोल नामक रसायनिक संग्रहण पदार्थ के कारण चक्र फूल का स्वाद किसी मुलैठी जैसा पर उससे थोडा तेज होता है |

चक्र फूल का पेड़

चीन, वियतनाम के साथ-साथ चक्र फुल का पेड़ दक्षिण-पूर्व एशिया में भी पाया जाता है पर चक्र फूल का वाणिज्यिक उत्पादन चीन और वियतनाम तक सीमित है |

भारत में इसका उत्पादन कुछ हद तक अरुणाचल प्रदेश में होता है लेकिन वह बहुत ही कम मात्रा में होता है |

Star Anise (चक्र फुल) के पेड को उगने के लिए विशिष्ट कृषि-जलवायु स्थिति की जरूरत होती हैं इसलिए यह दुसरी जगह पर उग नही पाते है |

इन पेड़ों के लिए वनप्रदेश योग्य होता जहाँ धुप और छाया दोनों समप्रमाण में होती है | 

चक्र फूल का पौधा सड़ी पत्तियों की मिट्टी, हल्के अम्लीय मिट्टी में अच्छी तरह से विकसित होता है | जो हल्की से मध्यम होती है और इसमें जल निकासी अच्छी होती है |

-10 डिग्री सेल्सियस तक का तापमान को चक्र फूल का पौधा सहन कर सकता है |

Star Anise (चक्र फुल) एक सदाबहार पेड़ है जिसकी ऊंचाई 8 से 15 मीटर तक की होती है और इसका व्यास 25 सेमी होता है | इसके पत्ते 10 से 15 सेमी लंबे और 2.5 से 5 सेमी चौड़े होते है |

"<yoastmark

इस पेड़ पर चक्र फूल के फल लगने में कम से कम छह साल लगते है |

चक्र फूल जब पेड़ पर होता है तो वह हरे रंग का होता है | पूरी तरह से पकने से पहले ही उसे पेड़ पर से तोड़ लिया जाता है | 

हरे रंग के इस फल को जब धुप में सुखाया जाता है तो उसका रंग लाल भूरा हो जाता है | इस तारे के आकार के लाल भूरे रंग के फल को ही Star Anise या चक्र फूल कहा जाता है | 

चक्र फुल के उपयोग 

खाना पकाते वक्त खाने को विशिष्ट स्वाद देने का काम चक्र फूल करता है |

इसका उपयोग चीनी व्यंजनों में लंबे समय से और पश्चिमी व्यंजनों में 1600 के दशक से किया जाता रहा है | भारत में भी चक्र फूल का उपयोग खाने का स्वाद बढाने के लिए किया जाता है |

खाने के साथ-साथ पेय पदार्थ का स्वाद बढाने हेतु भी इसका उपयोग किया जाता है | इसकी चाय बड़ी गुणकारी होती है |


चक्र फूल के बिज से तेल निकाला जाता है | इस तेल का उपयोग शीत पेय (Cold drinks), बेकरी उत्पादों और शराब में स्वाद के लिए किया जाता है |

यह एक अत्यधिक सुगंधित तेल है जिसका उपयोग खाना पकाने, इत्र, साबुन, टूथपेस्ट, माउथवॉश और त्वचा क्रीम में किया जाता है |

इत्र (Perfume) में भी चक्र फूल के तेल का उपयोग किया जाता है |


चक्र फूल के बिज में औषधी गुण होते है इसलिए कई रोगों के दवाई में इसका उपयोग किया जाता है |

विश्व प्रसिद्ध चाइनीज चक्र फुल मसाला 

चक्र फूल चीन का स्थानीय फल है, इसीलिए इसका वहापर अन्य देशों के मुकाबले विविध तरीके से उपयोग किया जाता है |

चीन का Five Spice Powder मिश्रण एक विश्व प्रसिद्ध मसाला है | जिसमे चक्र फुल का इस्तेमाल किया जाता है | 

  • इस Five Spice Powder मिश्रण का उपयोग चीनी लोग सब्जियां और मांस को स्वाद देने के लिए करते है | 
  • मांस को मैरीनेट करने के लिए इसका उपयोग किया जाता है | 
  • इसका उपयोग अचार बनाने के लिए मसाले के रूप में किया जाता है |
  • खाने के curries में स्वाद लाने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है |

आप भी चीन के इस Five Spice Powder मिश्रण मसाले को घर पर बना सकते है और खाने का स्वाद बढ़ा सकते हैं |


सामग्री:

  • चक्र फूल 1
  • 1 टेबल-स्पून साबुत काली मिर्च
  • दालचीनी 1/4 छड़ी
  • सौंफ 2 चम्मच
  • 4 साबुत लौंग

 ➡ बनाने की विधि :

धीमी आंच पर चक्र फूल, दालचीनी और लौंग को ३-४ मिनट के लिए भूनें, फिर सौंफ डालें और 1 से ३ मिनट के लिए भूनें |

इस मिश्रण को पिसने वाले चक्की का उपयोग करके पीस लें | इस पिसे हुए मिश्रण को महीन जाली वाली छलनी से छान ले |

छानने के बाद इस मिश्रण के बचे हुए मोटे टुकड़े को फिर से पीस लें |

मिश्रण के बचे हुए मोटे टुकड़े को आप स्वाद बढ़ाने के लिए चाय या किसी पेय जल में डाल सकते है |

चक्र फूल सेवन के लाभ 

चक्र फूल के बीजों से युक्त एक गिलास पानी पीने से सेक्स ड्राइव में वृद्धि हो सकती है |चीनी लोग मानते हैं कि चक्र फूल के बीज किसी की सेक्स इच्छा को बढ़ाने में बहुत मदद करते हैं |


चक्र फूल के बीजों में विटामिन A और C से भरपूर मात्रा में होते हैं | इनमे antioxidant (एंटीऑक्सिडेंट) भी होते है जो जल्दी उम्र बढ़ने और मधुमेह के लिए जिम्मेदार तत्वों को कम कर देते हैं |

शरीर की त्वचा को कसने का काम चक्र्फूल बीज करते है इसलिए त्वचा की झूरियां कम हो जाती है क्यों की इसमें एंटी-एजिंग गुण भी होते हैं |


चीन में कुछ महिलाएं स्तन के दूध के प्रवाह को बढ़ाने, मासिक धर्म को बढ़ावा देने और प्रसव को आसान बनाने के लिए चक्र फूल का सेवन करती हैं |


चक्र फूल के बीजों से उत्पन्न तेल में थाइम तेल (thyme oil) और टेरापिन तेल (terrapin oil) होता है जिसका खांसी (Cough) और फ्लू (Flu) के इलाज के लिए उपयोग किया जाता है |

लोग फ्लू (Flu) के इलाज के लिए चक्र फूल का उपयोग करते हैं क्योंकि इसमें शिकिमिक एसिड (shikimic acid) होता है, जिसका उपयोग फ़्लू के इलाज के लिए बनाई गयी दवाई टैमीफ्लू (Tamiflu) में किया जाता है |

2009 में चक्र फूल के बीजों में पाए जाने वाले कुछ तत्वों का स्वाइन फ्लू बीमारी के लिए बनाई गयी प्रभावी दवा में समावेश किया गया था | वास्तव में तबसे चक्र फूल की मांग और कीमत बढ़ गयी | 

हालांकि, ऐसा कोई शोध नहीं है जो यह दर्शाता हो कि सिर्फ चक्र फूल का सेवन करने मात्र से फ्लू बीमारी का वायरस नष्ट हो जाता है, पर इसका सेवन फ्लू की बीमारी में थोड़ा बहुत आराम जरूर दे सकता है |


सामान्य खांसी या सामान्य संक्रमण के लिए चक्र फूल बहुत अच्छा विकल्प हैं।


भोजन के बाद चक्र फूल की चाय का सेवन करने से पाचन तत्व जैसे गैस, अपचन और कब्ज की परेशानी दूर होने में मदद मिलती है |


यह फल जीवाणु नाशक, वायुनाशक और मूत्रवर्द्धक होता है। यह पेट फूलना और ऐंठन में भी उपयोगी माना जाता है |


कुछ लोग चक्र फूल के सुंगंध की सांस लेते है | ऐसा माना जाता है की श्वसन सबंध की बीमारी में यह कुछ हद तक आराम देता है |


ऐसे माना जाता है की श्वसन पथ के संक्रमण, फेफड़ों की सूजन (सूजन), खांसी, ब्रोंकाइटिस, फ्लू (इन्फ्लूएंजा), स्वाइन फ्लू और बर्ड फ्लू के लिए चक्र फूल का सेवन लाभदायक होता है |


चक्र फूल का उपयोग पाचन तंत्र की समस्याओं के लिए भी किया जाता हैं | जिसमें पेट की ख़राबी, गैस, भूख न लगना और पेट का दर्द भी शामिल हैं |


जरूरी सूचना :

किसी भी चीज का अत्यधिक मात्रा में सेवन आपके सेहत के लिए परेशानी का सबब बन सकती है फिर वो चीज कुदरती ही क्यों न हो | 

इसी लिए आधा चम्मच से अधिक Star Anise (चक्र फूल) का उपयोग करने की सलाह  कोइ भी चिकित्सक नहीं देता । स्वास्थ्य लाभ के लिए आधा चम्मच पर्याप्त होगा |

चक्र फूल सेवन की विधी 

चक्र फूल सेवन के विविध तरीके है |

इसको पीसकर पाउडर बनाया जा सकता है या इसे पूरी तरह से साबुत इस्तेमाल किया जा सकता है |

कभी-कभी आप इसे क्रश करके भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

चाय में आप इसे पाउडर, साबुत या क्रश करके भी इस्तेमाल कर सकते हैं |

आप इसका कुछ व्यंजनों में पाउडर के रूप में उपयोग कर सकते हैं |

इसका उपयोग रसोई में मीठे और नमकीन व्यंजनों के साथ किया जा सकता है |

इसका प्रयोग मिठाई बनाने में भी किया जाता है, जहाँ यह हल्की मीठास के साथ तीखा स्वाद भी प्रदान करता है |

इसका उपयोग करने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि इसे 5 मिनट तक गर्म पानी में उबालें और फिर इसे थोडी देर रहने दें | ग्रीन टी बैग को इसमें डुबोएं, बाद में छान ले और एक स्वस्थ भारतीय पेय के रूप में पीएं | आप इसमें शहद या थोडीसी Sugar Free चीनी भी मिला सकते है |

वजन घटाने वाला चक्र फूल 

ऐसा माना जाता है चक्र फूल और दालचीनी बनाकर जो चाय बनती है वो बढे हुए वजन को कम करने में सहायक होती है | 

एक कप चक्र फूल-दालचीनी चाय बनाने के विधि |

सामग्री:

  • 3 चक्र फूल
  • 1 इंच लम्बी दालचीनी

प्रक्रिया:

1 कप पानी उबालें और उसमें चक्र फूल और दालचीनी मिला लें |

ढक्कन से ढक कर लगभग १० मिनट तक उबालें और इसे ३ मिनट के लिए रहने दें |

छलनी से छानकर इस चाय को गर्म ही सिप सिप करके पिए | स्वाद के लिए आप इसमें शहद मिला सकते है | 

इस तरह की गर्म चक्र फूल की चाय वजन घटाने के लिए और खांसी और सर्दी के मामले में और गले को शांत करने के लिए गुणकारी होती है |


आवश्यक सूचना:

चक्र फूल की तासीर गर्म होती है इसलिए इसका अत्याधीक सेवन सेहत को नुकसान पंहुचा सकता है |

चक्र फूल का दूध 

दूध में चक्र फूल का उपयोग करके आप एक स्वादिष्ट पेय बना सकते है | चक्र फूल का दूध स्वादिष्ट होने के साथ सेहतमंद होता है और बनाने में आसान भी |

Star Anise in Hindi
Star Anise in Hindi

यह चक्र फूल दूध रेसिपी नेदरलैंड के एक पेय पर आधारित है | 

सामग्री:

3 कप दूध (चॉकलेट मिल्क को छोड़कर आप किसी भी तरह का दूध इस्तेमाल कर सकते हैं )
3 चक्र फूल (स्वाद के अनुसार आप इसे कम ज्यादा कर सकते है )
3 बड़े चम्मच चीनी (यदि आवश्यक हो तो चीनी कम करें)

चीनी की जगह आप शहद या भूरि शक्कर (Brown Sugar) का उपयोग कर सकते है |

बनाने की विधि:

  • मध्यम आकार के सॉस पैन में दूध और चक्र फूल मिला ले |
  • इस मिश्रण को मध्यम या उच्च गर्मी पर उबाल लें |
  • एक उबाल आने के बाद, इसे 3 से 5 मिनट के लिए छोड़ दें |
  • स्वाद अनुसार शहद या शक्कर मिला ले | आपका स्वादिष्ट और सेहतमंद चक्र फूल दूध तयार हो जाएगा |
क्या चक्र फूल जहरिला होता है?

सामान्य रूप से दो तरह के चक्र फूल पाए जाते है और इनमे से एक जहरीला होता है |

  1. चीनी चक्र फूल 
  2. जपानी चक्र फूल 

चीनी चक्र फूल और जपानी चक्र फूल दोनों दिखने में एक समान होते है | दोनों में भेद ढूंढ पाना मुश्कील होता है | 

चीनी चक्र फूल को खाने का और पेय जलों का स्वाद बढाने के लिए उपयोग में लाया जाता है | इसमें बहुत सारे औषधी गुण होते है इसलिए इसे औषधी में और औषधी के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है | इसके बीजों का तेल भी निकाला जाता है जो खाने के आलावा औषधी में भी काम में लाया जाता है | 

चीनी चक्र फूल बिलकूल भी जहरीले नहीं होते है | 

जपानी चक्र फूल बड़े जहरीले होते है इसलिए इनको खाया नहीं जाता है | ये खाने के और औषधी दोनों के योग्य नहीं होते है |

चीनी और जपानी दोनों चक्र फूल दिखने में एक जैसे होते है इसलिए यह हमेशा सुनिश्चित करें कि आप चीनी चक्र फूल का उपयोग कर रहे हैं, न कि जापानी चक्र फूल का, जो कि जहरीला होता है |

चक्र फूल सेवन के नुकसान 

यदि आप गर्भवती हैं या बच्चे को स्तनपान करा रही हैं तो चक्र फूल का सेवन करने से आपको बचना चाहिए | इस स्थिती में इसका सेवन नुकसानदायक हो सकता है |


बच्चों को चक्र फूल का सेवन नही करना चाहिए |


चक्र फूल की तासीर गरम होती है इसलिए इसका अत्यधिक सेवन आपका पेट ख़राब कर सकता है |


जापानी चक्र फूल जहरीला होता है इसलिए हमेशा चीनी चक्र फूल का ही सेवन करें |


Star Anise in Hindi

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here